Connect with us

उत्तराखंड…. गुड न्यूज़अब घर बैठे देख सकते हैं अपना जीपीएफ, जानिए

उत्तराखंड

उत्तराखंड…. गुड न्यूज़अब घर बैठे देख सकते हैं अपना जीपीएफ, जानिए

Ad
देहरादून- उत्तराखंड के सरकारी कर्मचारी अब अपने भविष्य निधि (जीपीएफ) खाते को घर बैठे मोबाइल के जरिये ऑनलाइन देख सकेंगे। इस सिलसिले में भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा विभाग उत्तराखंड द्वारा एनआइसी के सहयोग से तैयार ‘ऑनलाइन जीपीएफ उत्तराखंड’ मोबाइल एप को शुक्रवार को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लांच किया।
मुख्यमंत्री आवास के जनता मिलन हॉल में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री रावत ने यह एप लांच करते हुए कहा कि सूचना तकनीकी के जरिये ई-गर्वनेंस की सेवाओं में सुगमता आई है। उन्होंने कहा कि इस एप के जरिये कर्मचारियों के भविष्य निधि लेखे तक उनकी पहुंच आसान हो जाएगी। उन्हें अपने जीपीएफ की राशि की जानकारी लेने में आसानी होगी। वे अपने मोबाइल से घर बैठे जीपीएफ खाते की पूरी जानकारी ले सकेंगे।
यह होगा एप में शामिल
जीपीएफ ऑनलाइन उत्तराखंड में सरकारी कर्मचारियों के जीपीएफ से संबंधित विभिन्न सूचनाओं के साथ ही जीपीएफ का संपूर्ण ब्योरा, शेष राशि, दिशा निर्देश, अंतिम स्टेटमेंट आदि की जानकारी मिलेगी। इंटरनेट बंद होने की दशा में यह ऑफलाइन मोड में भी काम करेगा। जिन कर्मियों के पास स्मार्ट फोन नहीं हैं, उनके लिए एनआइसी ने एसएमएस सेवा का प्रावधान किया गया है।
जीपीएफ की मोबाइ एप्लीकेशन की लॉन्चिंग के दौरान सीएम रावत ने बीजेपी सरकार की योजनाएं भी गिनार्इ।सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि सरकार के कार्यकाल को 20 महीने से अधिक का समय हो चुका है। इस दौरान सरकार की कोशिश रही है कि जो भी वायदे किए गए हैं उन्हें पूरा किआ जाए। राज्य में नीतिगत परिवर्तन किए और राज्य की भौगोलिक परिस्तिथि को देख किए इन नीतिगत परिवर्तनों से राज्य की आर्थिकी में एक बड़ा परिवर्तन सामने आया है।
सीएम ने कहा कि किसी भी राज्य के लिए आर्थिक विकास महत्वपूर्ण कड़ी होती है। साल 2018-19 में राज्य की आर्थिक विकास दर 7.03 प्रतिशत हुर्इ है। दो सालों में तेजी से आर्थिक विकास दर तेजी से बढ़ी है। इन्वस्टर्स समिट के माध्यम से जो प्रयास किए गए उनके परिणाम आने भी शुरू हो गए है। रावत ने कहा कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में 2017 तक 1123 डॉक्टर्स थे, इस बीच 1137 नए डॉक्टरों की भर्ती की गर्इ है। ये चिकित्सा के क्षेत्र में बड़ी उपलब्धि है। साथ ही सरकार ने राज्य के सभी परिवारों को अटल आयुष्मान उत्तराखंड योजना से भी आच्छादित किया है।
इससे हर दिन एक लाख 10 हजार कार्ड बन रहे हैं और सरकार की कोशिश है कि जून महीने तक हर व्यक्ति को ये कार्ड मिल जाए। उन्होंने ये भी बताया कि एक महीने में 23 हर लोगों को निशुल्क इलाज मिल चुका है। 

Ad
Latest News -
Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

More in उत्तराखंड

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement Ad
Advertisement
Advertisement Ad

देश

देश
Our YouTube Channel

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap