Connect with us

दुःखद: आतंकी हमले में कर्नल का पूरा परिवार खत्म, 8 साल के बेटे, पत्नी सहित 4 जवान शहीद…

देश

दुःखद: आतंकी हमले में कर्नल का पूरा परिवार खत्म, 8 साल के बेटे, पत्नी सहित 4 जवान शहीद…

मणिपुर: आतंकियों ने सेना के काफिले पर हमला कर कर्नल को परिवार सहित निशाना बनाया है। ये हमला मणिपुर के चुराचांदपुर जिले में हुआ है। यहां असम राइफल्स यूनिट के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल विप्लव त्रिपाठी के काफिले को निशाना बनाया गया। हमले में सीओ की पत्नी और बेटे सहित सात लोगों की मौत हो गई। शहीद जवानों के शव शनिवार को इंफाल पहुंचे। दो संगठनों पीएलए और मणिपुर नगा पीपुल्स फ्रंट (एमएनपीएफ) ने संयुक्त रूप से हमले की जिम्मेदारी ली है। वहीं मणिपुर से देर शाम शहीद कर्नल परिवार का पार्थिव शरीर रायपुर विवेकानंद एयरपोर्ट पहुंचेगा, जहां मुख्यमंत्री भूपेश बघेल एयरपोर्ट जाकर श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। तत्पश्चात विशेष विमान से रायगढ़ जिंदल हेलीपैड में शव को लाने की बात कही जा रही है।पीएम नरेंद्र मोदी ने हमले में जान गंवाने वालों के परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

यह भी पढ़ें 👉  'ओमिक्रॉन' ने भारत की भी बढ़ाई टेंशन, केंद्र से लेकर राज्य सरकारें हुईं अलर्ट...
Ad

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शनिवार की सुबह असम राइफल्स की 46वीं बटालियन का काफिला इलाके से गुजर रहा था, तभी घात लगाकर बैठ उग्रवादियों हमला कर दिया। इस हमले में कर्नल विप्लव त्रिपाठी के साथ उनकी पत्नी समेत बेटे की भी मौत हो गई। कर्नल विप्लव त्रिपाठी कमांडिंग ऑफिसर थे। इस हमले में पांच जवान भी शहीद हो गए और जो घायल हुए हैं उनको उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कर दिया गया है। हमले में शहीद हुए कर्नल त्रिपाठी अपने स्वतंत्रता सेनानी दादा से प्रेरित थे, जो संविधान सभा के सदस्य भी थे। बताया जा रहा है कि शहीद के पार्थिव शरीर को पहले घर लाया जाएगा इसके बाद लोगों के श्रद्धांजलि के लिए रामलीला मैदान म्युनिसिपल स्कूल में शहीद का शव दर्शन के लिए ग्राउंड में रखा जाएगा। हालांकि मणिपुर में शहीद विप्लव त्रिपाठी और उनके परिवार का शव कब तक रायगढ़ आ पायेगा इस पर अभी तक संशय बना हुआ है फिर भी यह तय किया गया

यह भी पढ़ें 👉  Aaj Ka Panchang: जानिए 27 नवम्बर दिन शनिवार का पंचांग और राशिफल कैसा रहेगा जानिए...

असम राइफल्स ने कहा, कर्नल त्रिपाठी के नेतृत्व में बटालियन ने कई उपलब्धियां हासिल कीं। वे मिजोरम के स्थानीय लोगों से भी जुड़े हुए थे। जनवरी 2021 में उनके नेतृत्व में चलाया गया नशा के खिलाफ चलाए गए अभियान को भी लोगों ने काफी सराहा। समाज के लिए उनकी सद्भावना अनंतकाल तक चलेगी। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इसे ‘कायरतापूर्ण’ हमला बताते हुए कहा कि इसके दोषियों को जल्द ही न्याय के कटघरे में लाया जाएगा। रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, मणिपुर के चुराचांदपुर में असम राइफल्स के काफिले पर कायराना हमला बेहद दुखद और निंदनीय है। वहीं पीएम मोदी ने ट्वीट किया, मैं उन सैनिकों और परिवार के सदस्यों को श्रद्धांजलि देता हूं जो शहीद हुए हैं। उनके बलिदान को कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं।

यह भी पढ़ें 👉  'ओमिक्रॉन' ने भारत की भी बढ़ाई टेंशन, केंद्र से लेकर राज्य सरकारें हुईं अलर्ट...

Ad
Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in देश

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement Ad
Advertisement
Advertisement Ad

देश

देश
Our YouTube Channel

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
9 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap