Connect with us

बधाईः टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने रचा इतिहास, सीएम धामी सहित कई नेताओं ने दी बधाई…

उत्तराखंड

बधाईः टोक्यो ओलंपिक में भारतीय हॉकी टीम ने रचा इतिहास, सीएम धामी सहित कई नेताओं ने दी बधाई…

दिल्लीः टोक्यो ओलंपिक से भारत को गौरवांवित करती खबर आ रही है। भारतीय हॉकी टीम ने अपने शानदार खेल से इतिहास रच देश का नाम रोशन कर दिया है। भारतीय हॉकी टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए जर्मनी को 5-4 के अंतर से हराकर ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम कर लिया है। भारत ने 41 साल बाद ओलंपिक में हॉकी का मेडल जीता है। भारतीय टीम की इस कामयाबी से देश में खुशी की लहर है। सीएम धामी, पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत, पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत, पूर्व सीएम हरीश रावत व सांसद अनिल बलूनी ने ट्वीट कर भारतीय पुरुष हॉकी टीम को बधाई दी है।

भारतीय टीम को बधाई देते हुए सीएम धामी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि “TokyoOlympics2020 में जर्मन टीम को हराकर भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने कांस्य पदक जीता है और इतिहास रचा है। टीम के सभी खिलाड़ियों को शानदार प्रदर्शन और अविस्मरणीय जीत के लिए हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं। समस्त देशवासियों को आप सभी पर गर्व है।” वहीं पूर्व सीएम तीरथ सिंह रावत ने ट्वीट कर लिखा है कि “यह हर भारतीय के लिए बेहद गर्व और खुशी का क्षण है कि हमारी पुरुष हॉकी टीम ने 41 साल बाद टोक्यो ओलंपिक में कांस्य पदक जीता है। यह ऐतिहासिक जीत हॉकी में एक नए युग की शुरुआत करेगी और युवाओं को खेल में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेगी। आपने पूरे देश को गौरवान्वित किया है। पूर्व सीएम त्रिवेंद्र ने भी हॉकी टीम को बधाई दी है। उन्होंने भी कहा है कि टोक्यो ओलम्पिक्स में भारतीय हॉकी टीम द्वारा कांस्य पदक जीतना एक विस्मरणीय क्षण है। भारत ने आज 41 साल बाद हॉकी की प्रतिस्पर्धा में मेडल जीता है। सासंद बलुनी ने लिखा है कि बधाई देते हुए कहा कि ये ऐतिहासिक क्षण हैं। यह दिन दिन सालों तक याद रहेगा।हमारे हॉकी का स्वर्णिम युग आ रहा है। वहीं हरदा ने भी हॉकी टीम को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि “Bronze is New Gold!”। भारतीय पुरुष हॉकी टीम को बहुत-बहुत बधाई। हमें आप पर गर्व है।

यह भी पढ़ें 👉  शरदोत्सव विशेष: चंद्रमा से बरसता अमृत तो चांदनी करती उत्सव, शरद पूर्णिमा की रात खीर में आती है 'मिठास'...

गौरतलब है कि मुकाबले की शुरुआत अच्छी नहीं हुई थी। मौजूदा वर्ल्ड रैंकिंग में तीसरे स्थान पर मौजूद भारत को जर्मनी ने मैच के पहले मिनट में ही गोल कर 0-1 बढ़त बना ली। जर्मनी की ओर से तिमुर ओरुज ने ये गोल किया। भारत को पांचवे मिनट में वापसी का मौका मिला लेकिन रुपिंदर पाल सिंह पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील करने में नाकाम रहे। पहले क्वॉर्टर खत्म होने के बाद भारत पर जर्मनी ने 0-1 की बढ़त बनाए रखी। हालांकि भारत के गोलकीपर श्रीजेश ने इस क्वॉर्टर में कुछ शानदार बचाव किए। भारत के लिए सिमरनजीत सिंह ने दो, हरमनप्रीत सिंह, रुपिंदर पाल सिंह और हार्दिक सिंह ने एक-एक गोल कर इस मैच में टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई है। इससे पहले भारत ने वासुदेवन भास्करन की कप्तानी में 1980 के मॉस्को ओलंपिक में गोल्ड मेडल जीता था।

यह भी पढ़ें 👉  आपदा: बारिश और भूस्खलन ने कुमाऊं में मचाई तबाही, 25 की मौत, मुख्यमंत्री धामी ने संभाला मोर्चा...

 

Latest News -
Continue Reading
Advertisement

More in उत्तराखंड

Advertisement

उत्तराखंड

उत्तराखंड
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Our YouTube Channel

ट्रेंडिंग खबरें

Recent Posts

To Top
0 Shares
Share via
Copy link
Powered by Social Snap